Monday, October 1, 2018

अपने सपनों को जी लेंगे आप ये पांच बाते पढ़कर

                  सपना देखिये और उसे पा लीजिये।
Hi Doston! अगर मुझसे पूछा जाए की इंसान की सबसे बड़ी पूंजी क्या है तो मैं कहूंगा की उसका सपना। इंसान सब कुछ खोकर भी अमीर बना रह सकता है अगर उसके पास अपना सपना है. ज़िंदगी आसान भाषा में यही है की सपना देखो और उसे पूरा करो। आपको सपना देखना है और उसे पूरा करने के लिए जी तोड़ मेहनत करनी है। बिना सपने का इंसान ठीक वैसा ही होता है जैसे कि बिना इंजन की रेल गाड़ी जिसका एक जगह स्थिर रहना तय है। और एक जगह जमें रहना पेड़ों का स्वभाव है ना कि इंसान का। इंसान का स्वभाव तो अपने सपनो को पूरा करना है और उनके पीछे भागते रहना है।
कई लोग जीवन से इतने हताश हो जाते हैं कि आप उनसे जब भी मिलेंगे तो आपको उनके अंदर नकारात्मकता ही मिलेगी। दोस्तों, हार तो वो इंसान जाता है जो कभी रेस में शामिल ही नही हुआ। अगर भगवान ने आपको इंसान का जन्म दिया है तो आपको हर वो संसाधन दिए है जिससे आप खुद को एक सफल इंसान बना सकते हो। अगर आप ठान ले तो कोई ऐसी चीज़ नहीँ है जिसे आप Achieve न कर सकें।
जानी मानी कंपनी एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स ने ज़िन्दगी को लेकर एक बहुत ही अच्छी बात कही थी जो मुझे हमेशा inspire करती है। उन्होंने कहा था कि "इंसान के आने और जाने का वक़्त पहले से तय है। आप किसी की बातों से डरें नहीं न ही किसी की बाते सुन कर आप हताश हों। ना वो यहाँ हमेशा के लिए रहने वाला है ना ही आप। आप पहले से नंगे हैं"। बिल्कुल सही बात है दोस्तों। वास्तव में हमारे पास टाइम बहुत कम है। तो बड़े बड़े सपने देखिये और इन्हें आगे बढ़ कर पा लीजिये।
दोस्तों नीचे बताई पांच बाते अगर आप अपने जीवन में उतार लें तो कोई भी आपको अपनी मंज़िल तक पहुचने से रोक नहीं सकता!

1.खुद को पहचाने और अपना  लक्ष्य निर्धारित करें: दोस्तों जीवन में लक्ष्य का होना बहुत ही ज़रूरी है। सबसे पहले आप अपने intrest को जाने। हम सब में कोई न कोई हुनर ज़रूर होता है। अपने talent को पहचाने और उसे निखारने का काम करें। आपको खुद को निखारने का काम पूरी शिद्दत से करना है। अपने intrest के field में आप अपने आप को इस तरह निखार लें कि आप से अच्छा उस कार्य को दूर-दूर तक कोई जानता न हो। वो कहावत है ना दोस्तों की अगर आप झाड़ू लगाने का कार्य करते हैं तो झाड़ू भी इस तरह लगाइये की सालों तक लोग आपके काम को याद रखें। याद रखिये की हम सबके के पास समान वक़्त है। कोई इतने ही टाइम में अर्श पर पहुँच जाता है तो कोई फर्श पर ही रह जाता है।


2.नए नए लोगों से मिलें:जी हाँ! नए नए लोगों से मिलना जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। आप याद रखें कि आपको कभी भी कुएं का मेढक बन कर नही रहना है। आप नए नए सफल लोगों से मिलेंगे, उनकी success स्टोरी सुनेगे तो आप में स्वतः ही एक आत्मविश्वाश आएगा। इससे आप में एक positivie energy भी आती है। नए लोगों से मिलने का एक फायदा ये भी है कि आप को जीवन के नए नए अनुभव भी होंगे।
दोस्तों, इंसान किसी भी चीज़ को दूसरे इंसान से ही सीखता है। आप भी ऐसे ही सफल लोगों को अपना आदर्श बनाएं और उनके जीवन मे बारे में  जानें। आपको इससे अपने सपने को पाने के लिए prectical approch भी मिलेगी
आज जबकि  दुनिया एक दूसरे से इस कदर जुड़ी की सूचनाएं पालक झपकते ही इधर से उधर चली जाती हैं, आपको भी हर तरह से एक दूसरे से connected रहना होगा और अपडेटेड भी। 24 hours online!


3.खुद को निखारें:अपने अंदर झांक के देखना अत्यंत आवश्यक है. इससे एक आत्मचिंतन तो होता ही है साथ में खुद की कमियां भी मालूम पड़ती है. यहाँ खुद को निखारने का मतलब यही है की आपके अंदर कोई भी अवगुण न रहे. आपने जो भी करने का सपना देखा है, आपको उसके अनुसार खुद को ढालना होगा। जीवन में कोई भी  परफेक्ट इंसान नहीं बन सकता, हर किसी में कोई न कोई कमी तो रहेगी ही. ध्यान रखें अगर आप परफेक्ट नही बन सकते तो कोई भी यहाँ परफेक्ट नहीं है. अपने आपको इतना निखारे की आप परफेक्ट से भी परफेक्ट लगें अपने काम में. 
दोस्तों जैसे हम एक चावल के दाने को चख कर ये बता देते है की बर्तन में पक रहे अन्य चावल पके हैं की नहीं, ठीक उसी तरह आपको भी अपनी हर कमी को इस तरह दूर कर लें की आपको कोई कहीं से भी चखे तो आप उसे पूरे पके लगो. यही जीवन का सार भी है. आप अपने आप को निखारते रहिये और वाकई ये कायनात आपको सफलता से ज़रूर मिलवा देगी।


4. विनम्र रहें और मुस्कुराते रहें:विनम्र और सहनशील रहना इंसान का सबसे बड़ा धर्म है. अगर आप अपना calm खो देंगे तो आप कुछ नहीं कर पाएंगे. मान लीजिये अगर आप कुछ काम बड़ी मेहनत से कर रहे हैं और कोई उसमे कमी निकाल देता है तो बेशक आपको बुरा ज़रूर लगेगा पर दोस्तों आप यहाँ शांत रहे और मुस्कुराते रहे. जो भी इंसान आप में कमी निकाल रहा है वो आपको निखारने का काम कर रहा है. 
कबीर दास जी ने तो यहाँ तक कहा है की जो भी इंसान आपकी कमी निकालता है और आपकी आलोचना करता है तो ऐसे इंसान की कुटिया आप अपने आँगन में लगा दीजिये। क्यूंकि आपमें कमी निकाल निकाल कर एक दिन वो आपको इतना परफेक्ट बना देगा की एक दिन ऐसा नहीं आएगा की आपमें कोई कमी ही नहीं रहेगी। यहाँ कहने का तात्पर्य इतना ही है दोस्तों की अलोचनाओं से हताश न हों, उन्हें विनम्रता से स्वीकारें और मनन करें की कमी कहाँ रह गयी है उसे ठीक करें और मुस्कुराते हुए आगे बढ़ते रहे. 


5. आध्यात्मिक बनें:दोस्तों जीवन में आध्यात्म का होना अत्यंत आवश्यक है. अपना भारत तो सदियों से अध्यात्म का केंद्र रहा है. आप ईश्वर को मानते है या नहीं इससे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता, आप दोनों तरीकों से आध्यात्मिक रह सकते हैं. अगर आप ईश्वर को मानते है तो आप ईश्वर का ध्यान करें और उसका अपने साथ होने का एहसास लिए सपने के लिए आगे बढ़ते रहे. अगर आप ईश्वर को नहीं मानते हैं तो खुद को एक अच्छा इंसान बनाना सबसे बड़ा अध्यात्म है. आप खुद को रोज़ अच्छा बनाने का प्रयास करें. 
आध्यात्म इंसान को एक आत्मिक शान्ति देता है. ये इंसान की खुद से पहचान करता है.  आज कल की सबसे बड़ी समस्या तो यही की इंसान रोज़ हज़ारों लोगो से मिलता है पर खुद से मिलने का उसके लिए वक़्त ही नहीं है. ये सभी चीज़ें हमारी इंसानी ज़िंदगी को शांतिपूर्ण बनती हैं. आध्यात्म एक ऐसा रास्ता जिपर चलकर इंसान शान्ति तो पता ही है और अपने जीवन को भी सफल बनता है क्यूंकि उसके मूल गुण अध्यात्म से निखर चुके होते हैं. 


तो दोस्तों, यहाँ मैंने आपको अपने सपनों को पाने के लिए 5 पॉइंट्स बताये। यहाँ मैंने बहुत बड़ी बड़ी बाते नहीं बताई। यहाँ मैंने खुद की ज़िंदगी में  महसूस किया है या सफल लोगों के जीवन को समझने के बाद जो पाया है वही बताया है. आप अपने जीवन में सकारात्मक रहे और आगे बढ़ते रहे, कोई भी आपको अपने सपने पाने से नहीं रोक सकता, बस ज़रूरत है तो बस एक सकारात्मक सोच के साथ शुरुआत करने की. ALL THE BEST FRIENDS!

ये लेख आपको कैसा लगा दोस्तों हमें कमैंट्स में ज़रूर बताएं!

हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो करें. 

अगर आपके पास अपना कोई लेख, कहानी, या कविता है तो हमें baatonkaaashiyana@gmail.com पर ज़रूर भेजें!

No comments:

Post a Comment